25 लाख खर्च कर विदेश में पत्नी को पढाया, हो गयी किसी और कि, जानिए खबर

देश-विदेश

मोगा। एक युवक ने अपनी पत्‍नी को विदेश में शिक्षा दिलाई। उसने पत्‍नी के आइलेट्स करने, कनाडा जाने व वहां पढ़ाई करने का पूरा खर्चा उठाया। इस पर उसने करीब 25 लाख 70 हाजर रुपये खर्च किए। दोनों में तय हुआ था कि कनाडा में सैटल होने के बाद वह पति को भी वहां बुला लेगी। लेकिन, शिक्षा पूरी कर वहां सैटल होने के बाद युवती पंजाब वापस आई और किसी अन्‍य युवक से शादी रचाकर वापस कनाडा चली गई।

युवक का कहना है कि पत्‍नी उससे तलाक लिए बिना ही दूसरी शादी कर ली। उसने पति को इसकी भनक नहीं लगने दी। वह कनाडा में सैटल हो गई तो पांच साल बाद पहले पति से तलाक दिए बिना लुधियाना के एक अन्य युवक के साथ शादी रचाकर कनाडा चली गई। पति ने इसके बाद पुलिस में शिकायत दी। इस मामले में थाना सदर पुलिस ने एनआरआइ युवती व उसके परिजनों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया और युवती के पिता को गिरफ्तार कर लिया है।
जानकारी के अनुसार, दंगा पीडित इंसाफ वेलफेयर समिति पंजाब के प्रधान रजिंदर सिंह संघा निवासी डरौली भाई के बेटे जसप्रीत सिंह ने थाना सदर पुलिस की शिकायत में कहा कि गांव बोहना निवासी एक युवती के साथ उसकी शादी हुई थी। इस दौरान तय हुआ था कि ससुराल वाले युवती को कनाडा पढ़ाई के लिए कनाडा भेजेंगे। पढ़ाई पूरी होने के बाद वह खुद कनाडा में सैटल होने के बाद पति को भी वहां ले जाएगी।

जसप्रीत सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में कहा कि उसकी आैर युवती की शादी 1 मार्च 2011 को सिख रीति रिवाज से गांव बोहना में हुई। मोगा के सब रजिस्ट्रार कार्यालय में विवाह का रजिस्ट्रेशन भी करवाया गया था। शादी के लगभग छह महीने बाद युवती सितंबर 2011 में कनाडा पढ़ाई के लिए चली गई। जसप्रीत सिंह ने अपनी शिकायत में कहा है कि शादी के तीन साल तक वह अपनी पत्नी के विदेश जाने व विदेश में आगे की पढ़ाई आदि पर 25 लाख 70 हजार रुपये खर्च कर चुका था। इस बीच नवंबर 2015 में युवती कनाडा से वापस पंजाब आई। पत्‍नी उससे तलाक लिए बिना ही लुधियाना के गांव रामपुर निवासी युवक के साथ शादी कर ली। उसने लुधियाना के एक होटल में 29 नवंबर 2015 को दूसरी शादी रचा ली।

जसप्रीत ने पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि शादी करने के बाद युवती वापस कनाडा चली गई। पूरे मामले की युवती ने पति और सुसराल वालों को भनक नहीं लगने दी। जसप्रीत के परिजनों को जब इस बात का पता चला तो वे सन्‍न रह गए। वे गांव के प्रमुख लोगों को साथ लेकर युवती के माता माता पिता के साथ बात करने पहुंचे। उन्होंने युवती की प़ढाई पर खर्च किए 25 लाख 70 हजार रुपये वापस देने या जसप्रीत को कनाडा भेजने की बात की। जसप्रीत के अनुसार, युवती के परिजनों ने टालमटोल करते हुए पैसे वापस देने से इनकार कर दिया। शिकायत के बाद पुलिस की कई महीने तक चली जांच पड़ताल के बाद मोगा के डीएसपी (सिटी) की जांच रिपोर्ट के आधार पर एनआरआइ युवती, उसके पिता और एक अन्‍य के खिलाफ खिलाफ धोखाधड़ी, साजिश रचने व वीजा एक्ट के तहत थाना सदर में केस दर्ज किया गया। पुलिस ने आरोपित युवती के पिता को गिरफ्तार कर लिया है। थाना सदर के सहायक थानेदार जगसीर सिंह ने बताया कि अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार करने की तैयारी की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *